उसकी याद आती रही


राजीव रंजन
याद नहीं करता उसे
फिर भी याद आ जाता है
मैं तो समझा था
किताब में लिखा सबक है बस
याद करने पे ही याद आएगा
वो तो ज़िन्दगी की किताब निकला।

टिप्पणियाँ

बेनामी ने कहा…
mai yad nahi karti fir bhi yaad aa jata hai
har mod p na jane kyo takra jata hai
mujhe wo aapne hone ka ehsas dil jata hai
mai yaad nahi karti
fir bhi yaad aa jata hai

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

If you call me

रोमांस और कॉमेडी में पगी बरेली की बर्फी

सेठ गोविंद दास: हिंदी को राजभाषा का दर्जा देने के बड़े पैरोकार